तीन आंखों के साथ जन्मी बछिया, लोग कर रहे पूजा

    Date:

    राजनांदगांव। छत्तीसगढ़ के राजनांदगांव जिले में तीन आंख और चार नासिका छिद्र के साथ जन्मी बछिया को देखने लोगों का तांता लगा हुआ है। ग्रामीण और आसपास लोग बछिया को “भगवान का अवतार” मान पूजा कर रहे हैं।

    राजनांदगांव जिले के छुईखदान थाना क्षेत्र के अंतर्गत लोधी गांव निवासी किसान हेमंत चंदेल (44) ने सोमवार को बताया कि इस महीने की 13 तारीख को उसके घर एक गाय ने बछिया को जन्म दिया है। जन्म के बाद से ही बछिया ग्रामीण और आसपास के कस्बों के निवासियों के लिए कौतूहल का केंद्र बन गई है।

    उसने बताया, “इस बछिया के ​माथे पर एक अतिरिक्त आंख है और नथुने में दो अतिरिक्त नासिका छिद्र है। पूंछ जटा की तरह है तथा ​जीभ सामान्य से लंबी है।” चंदेल ने बताया, “तीन आंख और चार नासिका छिद्र समेत अन्य भिन्नताओं को लेकर जन्मी इस ​बछिया को लोग भगवान का अवतार मान पूजा कर रहे हैं।”​चंदेल ने बताया कि बछिया के असामान्य होने के बाद उन्होंने स्थानीय पशु चिकित्सक से उसकी जांच कराई थी। चिकित्सक ने बछिया के स्वास्थ्य को संतोषजनक बताया है। हालांकि लंबी जीभ होने के कारण उसे मां का दूध पीने में परेशानी हो रही है।

    उन्होंने बताया कि परिवार के लोग बछिया को दूध पिलाने में मदद कर रहे हैं।

    - Advertisement -

    किसान चंदेल ने बताया कि एचएफ जर्सी नस्ल की गाय पिछले कुछ वर्षों से इनके घर में है और पहले भी उसने तीन बछड़ों को जन्म दिया है, जो सामान्य थे। लेकिन इस बार जन्मी बछिया ने सभी को चौंका दिया है। उसने कहा, “हम मानते हैं कि ईश्वर ने हमारे यहां जन्म ​लिया है।” उन्होंने बताया कि जब आसपास के लोगों को बछिया के जन्म की जानकारी मिली तब बछिया की एक झलक पाने के लिए वह घर पहुंच गए और उसे भगवान का अवतार मानते हुए पूजा शुरू कर दी। लोग बछिया पर फूल और नारियल चढ़ा रहा हैं।

    अलौकिक घटना से इंकार

    इधर पशु चिकित्सकों ने इसे भ्रूण की असामान्य वृद्धि बताते हुए किसी अलौकिक घटना से इंकार किया है।

    क्षेत्र के पशु चिकित्सक कमलेश चौधरी ने बताया, “इस तरह कि विकृतियां भ्रूण के असामान्य विकास के कारण होती है। आमतौर पर जानवर के ऐसे बच्चे शारीरिक रूप से कमजोर होते हैं। इसे चमत्कार नहीं माना जाना चाहिए।” वहीं छत्तीसगढ़ में अंधविश्वास के खिलाफ वर्षों से आंदोलन चलाने वाले क्षेत्र के प्रसिद्ध चिकित्सक तथा अंधश्रद्धा निर्मूलन समिति के प्रमुख डॉक्टर दिनेश मिश्रा ने कहा है कि ऐसे मामले जन्मजात विसंगतियों के कारण होते हैं। उन्होंने कहा, “लोगों को इसे आस्था या अंधविश्वास से नहीं जोड़ना चाहिए। कई घटनाओं में यह देखा गया है कि विशेष रूप से ग्रामीण क्षेत्रों के लोग जागरूकता की कमी के कारण ऐसे जानवरों की पूजा करते हैं।” मिश्रा ने कहा है कि जानवरों में इस तरह की विकृति के बारे में लोगों को वैज्ञानिक रूप से समझाने की जरूरत है, जिससे वह अपने पशुओं की ठीक से देखभाल कर सकें।

    Subscribe to our Newsletter

    To be updated with all the latest news, offers and special announcements.

    कोई जवाब दें

    कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
    कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

    पोस्ट साझा करें:

    एक नजर इन पर भी...

    सुपेरीयपालीयम लिलड़िया भेरुजी आईमाताजी सोऽहम आश्रम निर्माण के लिए सहयोग

    चेन्नई। यहां खंगारराम देवड़ा ताराराम हाम्बड़ साहुकारपेट ने अपने परिवार की ओर से सुपेरीयपालीयम लिलड़िया भेरुजी आईमाताजी सोऽहम आश्रम के निर्माण कार्य के लिए...

    मुलेवा परिवार ने बांटे 151 कंबल

    बिलाड़ा।  बिलाड़ा के मुलेवा परिवार ने जरूरतमंदों को सर्दी से बचने हेतु 151 कंबल वितरित किए एक सादे समारोह में कृषि उपज मंडी समिति...
    बोगादी में शीतला माता भजन संध्या का हुआ आयोजन

    बोगादी में शीतला माता भजन संध्या का हुआ आयोजन

    मैसूरु। यहॉं की बोगादी ग्राम के सर्व व्यापारी संघ की ओर से रविवार को एक शाम शीतला माता के नाम भजन संध्या का आयोजन...

    बचपन में एक युवा ने गलत तरीके से छुआ था : कंगना रनौत

    मुंबई। बाल शोषण और यौन दुर्व्यवहार का जिक्र करते हुए अभिनेत्री कंगना रनौत ने अपने अनुभव को याद किया और कहा कि बचपन में...

    वेलूर में दिल्ली छात्रावास को लेकर उत्साह

    वेलूर। आईमाता मंदिर वेलूर और वेलूर बेंगलूरु रोड के सभा भवनों में दिल्ली छात्रावास की रूपरेखा की जानकारी देने और वातावरण निर्माण को लेकर...
    गुड़ा रुघनाथ सिंह में सीरवी समाज द्वारा आईमाता धर्म रथ भैल वधावा व धर्म सभा

    गुड़ा रुघनाथ सिंह में सीरवी समाज द्वारा आईमाता धर्म रथ भैल वधावा व धर्म...

    पाली। सीरवी समाज का इतिहास श्री आई माताजी का इतिहास, चमत्कार, दीवान रोहित दास जी और दीवान हरि दास जी के परचे,सती कागण माताजी,जति...
    10वीं के बाद भविष्य की नींव | Foundation of future after 10th

    10वीं के बाद भविष्य की नींव | Foundation of future after 10th

    लेखक–कानाराम सिरवी (गुड़ा दुर्जन) Mobile No. : 8000029774, Insta : @kr_kanaram_seervi_8885  Facebook : Seervi Kanaramकक्षा 10वीं में अध्ययन कर रहे सभी विधार्थियों को उज्ज्वल भविष्य...

    स्वतंत्रता के बाद नेताजी के प्रति न्यायपूर्ण ढंग से सम्मान व्यक्त नहीं किया गया...

    भोपाल। मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने रविवार को आरोप लगाया कि स्वतंत्रता के बाद कांग्रेस नीत सरकारों ने नेताजी सुभाष चंद्र...
    चन्द्रयान 3 की सफलता पर सीरवी समाज बलेपेट में गूंजे देशभक्ति के नारे

    चन्द्रयान 3 की सफलता पर सीरवी समाज बलेपेट में गूंजे देशभक्ति के नारे

    बेंगलूरु| सीरवी समाज ट्रस्ट कर्नाटक बलेपेट वडेर भवन आध्यात्मिक प्रवचन के दौरान इसरो के चंद्रमा मिशन चंद्रयान 3 की सफल लैंडिंग सफलता के उपलक्ष्य...
    आटे में जौ मिलाकर खाने के बेहतरीन फायदे | Benefits of eating Barley grain flour

    आटे में जौ मिलाकर खाने के बेहतरीन फायदे | Benefits of eating Barley grain...

    वर्तमान समय में गैस और कब्ज (gas and constipation) की समस्या से पीड़ित लोगों की संख्या लाखों-करोड़ों में हो गई है। यह इसलिए होता...

    इस तरह की और खबरें
    इस तरह की और खबरें

    एलन मस्क : बड़े लोग बड़ी बातें

    नई दिल्ली। कुछ लोग हमेशा खबरों में रहते हैं,...

    कोविड वैक्सीन लेने से बचने के लिए नारियल के पेड़ पर चढ़ा आदमी

    पुड्डुचेरी/दक्षिण भारत। पुड्डुचेरी के पास कोनेरीकुप्पम गांव में उस...

    बकरी ने दिया इंसान जैसी शक्ल के बच्चे को जन्म

    एक चौंका देने वाली घटना असम के कछार जिले...