तूफानों से भरा है बृहस्पति, क्या कभी थमेगा ग्रेट रेड स्पॉट

    Date:

    मेलबर्न (ऑस्ट्रेलिया)। बृहस्पति हमारे सौर मंडल में सबसे बड़ा ग्रह है, और इसका मौसम बहुत अनोखा है। हमारे पास बृहस्पति की सुंदर छवियां हैं जो पूरे ग्रह को ढके हुए धारीदार, तूफानी बादलों को दिखाती हैं।

    दरअसल, बृहस्पति तूफानों से आच्छादित है। कुछ छोटे हैं, लेकिन कुछ इतने बड़े हैं कि वे पूरी पृथ्वी को ढक सकते हैं।

    इन तूफानों में सबसे बड़ा प्रसिद्ध ग्रेट रेड स्पॉट है – जिसे मैंने देखा है और आप यह बात जानते हैं। यह स्पॉट कोई जगह नहीं वास्तव में एक चक्रवात है, जो पृथ्वी पर आने वाले तूफान और चक्रवात के समान है।

    यह गोल घूमने वाली शक्तिशाली हवाओं से बना है। ये हवाएं पृथ्वी पर किसी भी तूफानी हवाओं की तुलना में पांच गुना तेज हैं।

    - Advertisement -

    ग्रेट रेड स्पॉट बृहस्पति के तूफानों के दादा की तरह है। यह कई वर्षों से घूम रहा है – लेकिन हाल ही में हमने इसे छोटा होते देखा है।

    क्या इसका मतलब यह है कि यह एक दिन चला जाएगा? खैर, जरूरी नहीं।

    तूफानी धारियाँ

    बृहस्पति एक विशाल, धारीदार गेंद की तरह दिखता है जो बहुत तेजी से घूमती है। हल्के रंग की धारियाँ ऊपर उठती हवा के साथ बादल हैं, जबकि गहरे रंग की धारियाँ वह बादल हैं जो नीचे की तरह आ रहे हैं।

    जब आप बृहस्पति पर एक दूसरे के बगल में गहरी और हल्की धारियों को देखते हैं, तो यह वास्तव में विपरीत दिशाओं में चलने वाली हवाएं होती हैं।

    - Advertisement -

    जब ऐसा होता है, तो ये बड़े चक्रवातों को स्पिन कर सकते हैं, ठीक वैसे ही जैसे बीच बॉल खेलते समय गेंद को एक हाथ से धक्का देना और दूसरे हाथ से खींचना इसे स्पिन कर देगा।

    ग्रेट रेड स्पॉट को मनुष्य कम से कम 200 वर्षों से देख रहा है और यह लगभग पूरे समय तेज हवाएं चलाता रहता है।

    सभी तूफानों की तरह, यह दिन-प्रतिदिन बदल सकता है। कभी गोल तो कभी अंडे की तरह दिखता है। इसका रंग भूरा-लाल से हल्के लाल रंग में भी बदल सकता है। कभी-कभी यह लगभग सफेद दिखता है।

    लेकिन हाल ही में वैज्ञानिकों ने इस विशाल चक्रवात के सिकुड़ने पर ध्यान दिया है। लगभग 100 साल पहले, ग्रेट रेड स्पॉट आज की तुलना में लगभग तीन गुना बड़ा था।

    - Advertisement -

    क्यों सिकुड़ रहा है?

    यह समझने के लिए कि यह क्यों सिकुड़ रहा है, पहले यह समझने से मदद मिलती है कि पृथ्वी पर चक्रवात क्यों सिकुड़ते हैं (और अंततः रुक जाते हैं)।

    पृथ्वी पर, चक्रवात अक्सर कठोर भूमि या ठंडे पानी पर जाने से पहले गहरे, गर्म महासागरों के ऊपर बनते हैं। जब चक्रवात की हवाएँ कठोर भूमि से टकराती हैं, तो हवाएँ धीमी हो जाती हैं (और इसलिए चक्रवात धीमा हो जाता है)।

    पृथ्वी पर चक्रवात अन्य मौसमों और उनके आसपास की हवाओं से भी प्रभावित होते हैं, जो कुछ ही दिनों में चक्रवात को ‘‘मंद’’ कर सकते हैं।

    लेकिन बृहस्पति के पास पृथ्वी जैसी कठोर, चट्टानी सतह नहीं है। और भले ही बृहस्पति के बादलों में हवा बेहद सर्द हो, लेकिन अंदर की ओर हवा बहुत गर्म होती है। यह गर्म हवा तूफानों को महीनों, या वर्षों तक उत्पात मचाने के लिए भरपूर ऊर्जा देती है।

    इसलिए जबकि ग्रेट रेड स्टॉर्म सिकुड़ रहा है, यह वास्तव में अभी भी थोड़ा लंबा हो सकता है। और इसमें घूमते रहने के लिए भरपूर ऊर्जा है।

    हम इसे किनारों पर कमजोर होते भी देख सकते हैं क्योंकि यह अन्य तूफानों और इसके चारों ओर हवाओं में फिसल जाता है। लेकिन खगोलविद अभी भी नहीं जानते हैं कि क्या यह पूरी तरह से रूक जाएगा।

    कुछ लोग सोचते हैं कि यह एक दिन कई छोटे तूफानों में टूट सकता है।

    हाल ही में, जूनो अंतरिक्ष प्रोब (जो 2016 से बृहस्पति के चारों ओर घूम रही है) ने ग्रह से उड़ान भरते समय बृहस्पति के तूफानों की कई खूबसूरत तस्वीरें लीं। इन तस्वीरों से हमें कुछ नया सीखने को मिल सकता है।

    तब तक, हम ग्रेट रेड स्पॉट की प्रशंसा कर सकते हैं जब तक यह सक्रिय है।

     – लुसीना केदज़ियोरा-शुडज़ेर,
    प्रोग्राम मैनेजर / एडजंक्ट रिसर्च फेलो,
    स्विनबर्न यूनिवर्सिटी ऑफ टेक्नोलॉजी

    Subscribe to our Newsletter

    To be updated with all the latest news, offers and special announcements.

    कोई जवाब दें

    कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
    कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

    पोस्ट साझा करें:

    एक नजर इन पर भी...

    मप्र सरकार नर्मदा नदी के किनारे जैविक खेती करने का अभियान चलाएगी

    भोपाल। मध्य प्रदेश सरकार ने गंगा नदी के किनारे रसायन मुक्त खेती शुरु करने के केंद्रीय बजट प्रस्ताव से प्रेरणा लेते हुए प्रदेश की जीवन...
    आयुर्वेद के इन उपायों से किसी भी उम्र में तेज होगा आपका दिमाग

    आयुर्वेद के इन उपायों से किसी भी उम्र में तेज होगा आपका दिमाग

    वर्तमान समय में लाइफस्टाइल (lifestyle), रहन-सहन और भोजन के साथ ही सोचने का तरीका भी बदल चुका है। चाहे नौकरी पेशा लोग हो या...

    चीन में कैंटिन में विस्फोट में 16 की मौत, 10 घायल

    चोंग्किंग (चीन)। दक्षिण-पश्चिम चीन के चोंग्किंग नगर पालिका के वूलोंग जिले में एक उप-जिला कार्यालय की कैंटीन में शुक्रवार दोपहर को हुए विस्फोट में...

    चोरी के बाद भी चोर के हाथ न लगे सवा लाख, चारे के साथ...

    मथुरा। उत्तर प्रदेश के मथुरा जनपद में जैंत थाना क्षेत्र के अल्हैपुर में ग्रामीण उस समय दंग रह गए जब उन्होंने पशुओं का चारा...
    सीरवी समाज सेवा संघ लिंगराजपुरम में मनाया स्वतंत्रता दिवस

    सीरवी समाज सेवा संघ लिंगराजपुरम में मनाया स्वतंत्रता दिवस

    बेंगलुरू । सेवा संघ के मंदिर प्रांगण पर आजादी के 77वां स्वतंत्रता दिवस बड़े ही धूमधाम से मनाया गया। सर्वप्रथम अध्यक्ष नारायणलाल परिहार ने...
    बलेपेट बडेर में शिव महापुराण कथा का हुआ आयोजन

    बलेपेट बडेर में शिव महापुराण कथा का हुआ आयोजन

    बेंगलूरु| सीरवी समाज कर्नाटक ट्रस्ट बलेपेट भवन में गुरुवार चातुर्मास विराजित रामप्रकाशजी ने शिव महापुराणकथा का श्रवण करवाते हुए कहा कि शिव महापुराण उत्तम...
    सीरवी समाज करमनघाट अलमासगुड़ा वडेर में स्वतंत्रता दिवस मनाया

    सीरवी समाज करमनघाट अलमासगुड़ा वडेर में स्वतंत्रता दिवस मनाया

    हैदराबाद। सीरवी समाज ट्रस्ट करमनघाट अलमासगुडां वडेर के पदाधिकारियों एवं कार्यकारिणी कमेटी के सभी सदस्यों ने वडेर प्रांगण में आज 15 अगस्त को 77...
    सीरवी समाज वरतूर वडेर भवन मै झंडा रोहण आयोजित किया

    सीरवी समाज वरतूर वडेर भवन मै झंडा रोहण आयोजित किया

    बेंगलुरू। सीरवी समाज ट्रस्ट वरतूर वडेर प्रांगण में पन्द्रह अगस्त आजादी के महोत्सव को बङी धुम धाम से मनाया गया । समाज के गणमान्य...
    अखिल भारतीय सीरवी समाज महासभा खेल महाकुंभ का हुआ आगाज

    चतुर्थ अखिल भारतीय सीरवी समाज महासभा खेल महाकुंभ का हुआ आगाज

    सोजत/गांव अटबड़ा। चतुर्थ अखिल भारतीय सीरवी समाज महासभा खेल महाकुंभ का आगाज गांव अटबड़ा से, 29 जुलाई 2023 शनिवार को धर्मगुरु दिवान साहब माधव...

    मैसूरु सीरवी समाज बडेर में नवरात्रि डांडिया गरबा की धूम

    मैसूरु। शहर के केआरएस रोड़ स्थित सीरवी समाज मैसूरु के तत्वावधान में नवरात्रि महोत्सव का आयोजन किया जा रहा हैं। नवरात्रि पर्व को लेकर...

    इस तरह की और खबरें
    इस तरह की और खबरें

    नेरकुन्ड्रम में आईपंथ के धर्मगुरु का स्वागत

    चेन्नई। चेन्नई में सीरवी समाज ट्रस्ट नेरकुन्ड्रम के तत्वावधान...

    शोपियां, पुलवामा में दो मुठभेड़ों में चार आतंकवादी मारे गए

    श्रीनगर। जम्मू-कश्मीर के शोपियां और पुलवामा जिलों में शनिवार...

    चंद्रमा की सतह पर उतरने और इतिहास रचने की तैयारी में चंद्रयान-3

    बेंगलुरु, 23 अगस्त (भाषा)। भारत इतिहास रचने के करीब...

    समय यात्रा संभव हो सकती है, लेकिन केवल समानांतर समयरेखा के साथ

    ओंटारियो (कनाडा)। क्या आपने अतीत में कभी कोई गलती...

    सीसीटीवी फुटेज में दिखा अमृतपाल सिंह | Amritpal Singh seen in CCTV footage

    चंडीगढ़, 25 मार्च (भाषा) खालिस्तान समर्थक कट्टरपंथी उपदेशक अमृतपाल...

    वीवो की जगह टाटा समूह आईपीएल का प्रायोजक होगा

    नई दिल्ली। भारत के सबसे बड़े व्यवसाय समूह में...

    मौका मिला तो भारतीय टीम की कप्तानी करना सम्मान होगा : बुमराह

    पार्ल (दक्षिण अफ्रीका)। भारतीय तेज गेंदबाजी के अगुआ जसप्रीत...

    विधानसभा चुनाव: पांच राज्यों में सात चरणों में मतदान, 10 मार्च को मतगणना

    नयी दिल्ली। निर्वाचन आयोग ने शनिवार को पांच राज्यों...

    रूस ने यूक्रेन के पूर्वी हिस्से पर हमले तेज़ किए

    कीव। यूक्रेन के बंदरगाह शहर मारियुपोल से हजारों लोगों...

    बचपन में एक युवा ने गलत तरीके से छुआ था : कंगना रनौत

    मुंबई। बाल शोषण और यौन दुर्व्यवहार का जिक्र करते...