हम भविष्य के संघर्षों की कुछ झलकियां देख रहे हैं : सेना प्रमुख

    Date:

    नयी दिल्ली। सेना प्रमुख जनरल एमएम नरवणे ने चीन और पाकिस्तान की ओर से पेश राष्ट्रीय सुरक्षा चुनौतियों पर बृहस्पतिवार को कहा कि भारत अभी भविष्य के संघर्षों की कुछ झलकियां देख रहा है और उसके विरोधी अपने रणनीतिक लक्ष्यों को हासिल करने के प्रयास लगातार जारी रखेंगे।

    जनरल नरवणे ने एक संगोष्ठी को ऑनलाइन संबोधित करते हुए कहा कि भारत अलग तरह की, कठिन तथा बहु-स्तरीय सुरक्षा चुनौतियों का सामना कर रहा है और उत्तरी सीमा पर घटनाक्रम ने पूरी तरह से तैयार और सक्षम बलों की जरूरत को रेखांकित किया है।

    चीन और पाकिस्तान का नाम लिए बिना सेना प्रमुख ने कहा कि परमाणु-सक्षम पड़ोसियों के साथ सीमा विवाद साथ ही राज्य प्रायोजित छद्म युद्ध ने सुरक्षा तंत्र एवं संसाधनों के समक्ष चुनौतियां बढ़ा दी हैं।

    उन्होंने कहा, ‘‘ हम अभी भविष्य के संघर्षों की झलकियां देख रहे हैं। सूचना के क्षेत्र, नेटवर्क और साइबर स्पेस में भी हमें इसके सबूत दिखाई दे रहे हैं। विवादित सीमाओं पर भी ये सब दिखाई दे रहा है।’’

    - Advertisement -

    सेना प्रमुख ने कहा, ‘‘ इन झलकियों के आधार पर हमें भविष्य के लिए तैयार होना होगा। यदि आप आस पास देखेंगे, तो आपको आज की हकीकत का एहसास होगा।’’

    सेना प्रमुख ने कहा कि उत्तरी सीमा पर ताजा घटनाक्रम देश की संप्रभुता एवं अखंडता को बनाए रखने के लिए आधुनिक तकनीक वाले साजो-सामान से लैस सक्षम बलों की जरूरत को रेखांकित करते हैं।

    उन्होंने कहा, ‘‘ हमारे विरोधी अपने रणनीतिक लक्ष्यों को हासिल करने के प्रयास जारी रखेंगे… जैसे राजनीतिक, सैन्य और आर्थिक क्षेत्रों में ‘ग्रे ज़ोन’ गतिविधियों के जरिए संघर्ष उत्पन्न करना।’’

    पूर्वी लद्दाख में गतिरोध का जिक्र करते हुए उन्होंने कहा, ‘‘ 2020 की घटनाएं सभी क्षेत्रों में विविध सुरक्षा खतरों की गवाही देती है और इसने गैर-संपर्क (साइबर स्पेस आदि) और ग्रे ज़ोन युद्ध की ओर ध्यान आकर्षित किया है।’’

    - Advertisement -

    ‘ग्रे-ज़ोन’ युद्ध से तात्पर्य राजनीतिक उद्देश्य हासिल करने के लिए सावधानीपूर्वक कोई अभियान चलाना है।

    चीन का परोक्ष रूप से जिक्र करते हुए उन्होंने कहा कि कुछ राष्ट्र विश्व स्तर पर स्वीकृत मानदंडों और नियम आधारित व्यवस्था को चुनौती दे रहे हैं।

    जनरल एमएम नरवणे ने कहा कि अफगानिस्तान के हालिया घटनाक्रम ने फिर से छद्म और सरकार से इतर तत्वों के इस्तेमाल पर ध्यान आकृष्ट किया है।

    उन्होंने कहा कि थिएटर कमान बना कर तीन सेनाओं का एकीकरण करने पर काम चल रहा और भारतीय सेना इस बदलाव के लिए पूरी तरह प्रतिबद्ध है।

    - Advertisement -

    सेना प्रमुख ने कहा कि हम अपने बलों के पुनर्गठन , पुनर्संतुलन आदि पर ध्यान केन्द्रित कर रहे हैं।

    Subscribe to our Newsletter

    To be updated with all the latest news, offers and special announcements.

    कोई जवाब दें

    कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
    कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

    पोस्ट साझा करें:

    एक नजर इन पर भी...

    सीरवी समाज ट्रस्ट आनेकल वडेर में उत्साहपूर्ण मनाया स्वतंत्रता दिवस

    सीरवी समाज ट्रस्ट आनेकल वडेर में उत्साहपूर्ण मनाया स्वतंत्रता दिवस

    बेंगलुरू: सीरवी समाज ट्रस्ट आनेकल ट्रस्ट आनेकल वडेर के प्रांगण में स्वतंत्रता दिवस बड़े ही उत्साह एवं हर्षोलास के साथ मनाया गया। समाज के...

    पर्यावरण संरक्षण और हमारा दायित्व

    आज भारत ही नही बल्कि सम्पूर्ण विश्व पर्यावरण को लेकर चिंतित है।बढ़ता पर्यावरण प्रदूषण मानव जीवन की खुशियो को लील रहा है।सम्पूर्ण विश्व...

    ‘पुष्पा’ के बाद अल्लू अर्जुन की ‘आला वैकुंठपुर्रामूलू’ भी हिंदी में होगी रिलीज

    मुंबई। दक्षिण भारतीय सुपरस्टार अल्लू अर्जुन की ब्लॉकबस्टर तेलुगु फिल्म ‘आला वैकुंठपुर्रामूलू’ का हिंदी में डब किया गया संस्करण 26 जनवरी को सिनेमाघरों में...
    सीरवी समाज उदयपुर की छात्रावास का निर्माण कार्य संबंधित बैठक संपन्न

    सीरवी समाज उदयपुर की छात्रावास का निर्माण कार्य संबंधित बैठक संपन्न

    आप सभी समाज बन्धुओं को बहुत ही हर्ष के साथ सूचित किया जाता है कि उदयपुर सिरवी छात्रावास हेतु खरीदी गई जमीन का भू...

    जरगनाहल्ली बडेर में नवरात्र महोत्सव व कथा सम्पन्न

    बेंगलूरु। शहर के कनकपुरा रोड़ स्थित सीरवी समाज जरगनाहल्ली के तत्वावधान में नौ दिवसीय नवरात्रि महोत्सव का समापन हर्षोल्लास से हुआ, जिसमें कथा वाचक...

    स्वतंत्रता के बाद नेताजी के प्रति न्यायपूर्ण ढंग से सम्मान व्यक्त नहीं किया गया...

    भोपाल। मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने रविवार को आरोप लगाया कि स्वतंत्रता के बाद कांग्रेस नीत सरकारों ने नेताजी सुभाष चंद्र...

    ‘नशा मुक्ति के लिए, जहां चाह, वहां राह’, वैलूर समाज एक सटीक उदाहरण

    वैलूर। तमिलनाडु प्रान्त के प्रसिद्ध वैलूर शहर में सीरवी समाज में मादक पदार्थों सहित किसी भी प्रकार की नशे की मनुहार पर काफी सालों...

    वर्ष 2021-22 के लिए आयकर रिटर्न भरने की तिथि 15 मार्च तक बढ़ी

    नई दिल्ली। आयकर विभाग ने आंकलन वर्ष 2021-22 के लिए रिटर्न भरने के साथ ही विभिन्न प्रकार की आडिट रिपोर्ट दाखिल करने की अंतिम...

    सीरवी महिला मंडल द्वारा भजन कीर्तन

    चेन्नई। यहां के श्रीपेरंबदूर कस्बे में ग्राम तडंलम मे पार्श्व पद्मावती गौशाला में रविवार को सीरवी समाज सेवा संघ रामापुरम महिला मंडल के सदस्यों...

    ओमिक्रान के बढ़ते मामलों के बीच कब लगवाएं वैक्सीन या बूस्टर

    मेलबर्न। ऑस्ट्रेलिया के पूर्वी तट के इर्द गिर्द के इलाकों में ओमिक्रोन के मामले बढ़ते ही, कई लोगों ने टीकाकरण के लिए बुकिंग फिर...

    इस तरह की और खबरें
    इस तरह की और खबरें

    शार्दुल के 7 विकेट, भारत ने दक्षिण अफ्रीका को बड़ी बढ़त से रोका

    जोहान्सबर्ग। मध्यम तेज गेंदबाज शार्दुल ठाकुर (61 रन पर...

    कानपुर का इत्र कारोबारी पीयूष जैन गिरफ्तार

    कानपुर। उत्तर प्रदेश के कानपुर में त्रिमूर्ति फ्रेगरेंस प्राइवेट...

    पद छोड़ने पर मजबूर किया गया तो और भी खतरनाक हो जाऊंगा: इमरान खान

    इस्लामाबाद। पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान ने रविवार को...

    भाजपा सरकार ने सुधारी उत्तर प्रदेश छवि : योगी

    लखनऊ। समाजवादी पार्टी (सपा) समेत अन्य विपक्षी दलों पर उत्तर...

    आतंकवाद मानवाधिकार उल्लंघन का सबसे बड़ा रूप : अमित शाह

    नई दिल्ली। केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने बृहस्पतिवार...

    चन्द्रयान मिशन की सफलता अमृत वर्षा करने वाला क्षण: भागवत

    नयी दिल्ली, 24 अगस्त (वार्ता) राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के...

    राजनीतिक मतभेद इतना कैसा कि प्रधानमंत्री मोदी की जान से खेल जाए कांग्रेस : शिवराज

    भोपाल/वार्ता। मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कांग्रेस...

    चंद्रमा की सतह पर उतरने और इतिहास रचने की तैयारी में चंद्रयान-3

    बेंगलुरु, 23 अगस्त (भाषा)। भारत इतिहास रचने के करीब...

    विधानसभा चुनाव: पांच राज्यों में सात चरणों में मतदान, 10 मार्च को मतगणना

    नयी दिल्ली। निर्वाचन आयोग ने शनिवार को पांच राज्यों...